बिहार की उत्पादन क्षमता 182.85 करोड़ लीटर के विरुद्ध 34.62 करोड़ लीटर पर ही समझौता

आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 25 जुलाई 2022 : पटना । पूर्व उपमुख्यमंत्री सम्प्रति राज्यसभा सांसद  सुशील कुमार मोदी के एक प्रश्न के उत्तर में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय में राज्यमंत्री  रामेश्वर तेली ने बताया कि पेट्रोल में 20% इथेनॉल मिश्रण हेतु बिहार की वार्षिक मांग 30.7 करोड़ लीटर है जिसके विरूद्ध 12.2 करोड़ लीटर वर्तमान में स्थापित इथेनॉल प्लांट से प्राप्त हो रही है। अतः शेष 18.5 करोड़ लीटर हेतु तेल विपणन कंपनियों ने रुचि की अभिव्यक्ति हेतु अगस्त, 2021 में विज्ञापन निकाला था। इस विज्ञापन के विरुद्ध बिहार के उद्यमियों ने 29 प्लांट जिसकी वार्षिक उत्पादन क्षमता 182.85 करोड़ लीटर है के लिए आवेदन किया था। 

तेल कंपनियों ने 29 आवेदन में से मात्र 17 को स्वीकृति दी जिसकी उत्पादन क्षमता 34.62 करोड़ लीटर प्रति वर्ष है।
तेल कंपनियों का कहना है कि बिहार की वार्षिक आवश्यकता मात्र 18.5 करोड़ लीटर प्रति वर्ष है फिर भी 34.64 लीटर प्रति वर्ष की आपूर्ति हेतु हस्ताक्षर जनवरी, 2022 में किया गया। ज्ञातव्य है कि तेल विपणन कंपनियों ने बिहार सहित वैसे राज्य जहाँ इथेनॉल की कमी है वहाँ इथेनॉल के डेडीकेटेड प्लांट से आपूर्ति हेतु देशव्यापी विज्ञापन निकाला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network