I.N.D.I.A. गुट में न कोई कार्यक्रम तय हुआ है न हुई है कोई सीटडजस्टमेंट तो PM पद के लिए रस्साकशी होगी क्यों ?

आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 19 दिसंबर 2023 : पटना : I.N.D.I.A. गुट की आज होने वाली बैठक में प्रधानमंत्री के पद के लिए जेडीयू के नेता नीतीश कुमार के नाम का राग अलाप रहे हैं और वही बिहार कांग्रेस के नेता इस मांग पर तंज कस रहे हैं। इन सबके बीच, मंगलवार को जब पत्रकारों ने जन सुराज के सूत्रधार प्रशांत किशोर से इस बारे में पूछा तो उन्होंने पोल खोलकर रख दिया। प्रशांत किशोर ने कहा कि बिहार के पार्टियों की क्या भूमिका हो सकती है, ये तो अपने मुंह मियां मिट्ठू बन रहे हैं। कौन पूछ रहा है बिहार के नेताओं को I.N.D.I.A. गुट में? हमको तो नहीं लग रहा है कि देश की राजनीति में कोई नीतीश कुमार को पूछ रहा है। प्रशांत किशोर ने कहा कि पहले आप गठबंधन बनाएंगे, चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे उसके बाद प्रधानमंत्री पद की बात होगी। बिहार में बड़बोलापन यहां के राजनीतिक जीवन की सच्चाई है। RJD पर तंज कसते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि जिस पार्टी के लोकसभा में जीरो सांसद हैं और वो बता रहे हैं कि देश का प्रधानमंत्री कौन होगा, तो ये बड़बोलापन ही कहा जाएगा। भाई! आपको पूछ कौन रहा है? प्रधानमंत्री कौन बनेगा ये तय तो वो पार्टियां कर सकती हैं जिनके सांसद जीतकर आते हैं। आपका जीरो सांसद जीता हुआ है और आप कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री कौन होगा? ये तो ऐसे हुआ कि हम यहां से बैठकर कहें कि अमेरिका का राष्ट्रपति कौन होगा? ये तो आपकी मानसिकता को दिखाता है कि आपको न किसी बात की समझ है और न ही सोच है और बेव​जह की बात किए जा रहे हैं। 

दरभंगा के ताराडीह प्रखंड में पत्रकार वार्ता के दौरान प्रशांत किशोर ने आगे कहा कि जहां तक बात I.N.D.I.A. गुट में प्रधानमंत्री पद के लिए रस्साकशी की है तो अभी तो I.N.D.I.A. गुट की तीन चार बैठकें ही हुई हैं। अभी कोई कार्यक्रम तय नहीं हुआ, सीट एडजस्टमेंट तय नहीं हुआ। यही नहीं पता है कि गठबंधन में शामिल पार्टियां चुनाव कैसे लड़ेंगी, तो रस्साकशी क्या होगी? ये तो कॉमनसेंस की बात है कि I.N.D.I.A. गुट में सबसे बड़ा दल कांग्रेस है, तो स्वाभाविक तौर पर I.N.D.I.A. गुट का नेतृत्व भी कांग्रेस के पास रहेगा। आप चाहे जितना हल्ला मचा लीजिए कांग्रेस को छोड़कर कोई दूसरा दल कैसे I.N.D.I.A. गुट का नेतृत्व करने लगेगा? मान लीजिए कि कांग्रेस छोड़ भी दे तो दूसरा बड़ा दल टीएमसी है और वो भी छोड़ देगी तो तीसरा बड़ा दल डीएमके है। बिहार के दलों का तो I.N.D.I.A. गुट में क्या है, बिहार में तो 40 में से 39 सांसद एनडीए गठबंधन के जीते हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network