आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 05 जनवरी 2024 : नवादा।  शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव, श्री के.के. पाठक कल देर रात डायट पहुंचे जहां बीपीएससी से चयनित नव नियुक्त प्रशिक्षु शिक्षकों का मार्गदर्शन दिया। नवनियुक्त प्रशिक्षु शिक्षकों को दायित्व और कर्तव्य का पाठ पढ़ाये। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को काम करने की आदत डालनी होगी। अच्छे शिक्षकों को हर जगह प्रतिष्ठा मिलती है। अच्छे ढ़ंग से प्रशिक्षित हों और बच्चों को अच्छी शिक्षा दें। आज 10ः00 बजे पूर्वा0 में जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, उप विकास आयुक्त, जिला शिक्षा पदाधिकारी आदि के साथ शिक्षा विभाग के द्वारा संचालित योजनाओं/कार्यक्रमों के संबंध में विस्तृत समीक्षा बैठक किये*। *जिले में भवनहीन विद्यालयों को भवन बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्देश दिए*उन्होंने कहा कि विभागीय मार्ग निर्देशन के अनुरूप लक्ष्य हासिल करना सुनिश्चित करें। तत्पश्चात उन्होंने डायट परिसर का मुआयना किया और पुराने और जर्जर भवनों को साफ कर हरा भरा मैदान बनाने के लिए कई आवश्यक निर्देश दिये। इंडोर स्टेडियम में निरीक्षण के उपरांत कहा कि जो भी भवन आज अनुपयोगी है और जर्जर है उसे हटाकर शिक्षा भवन का निर्माण कराना सुनिश्चित करें। प्रोजेक्ट इंटर विद्यालय का औचक निरीक्षण किये एनसीसी के छात्राओं के द्वारा मार्च पास्ट करते हुए कार्यालय तक ले गई और बुके देकर सम्मानित किये। विद्यालय के कम्प्यूटर रूम, पुस्तकालय एवं शिक्षण कक्ष का भी निरीक्षण किया। उन्होंने स्पष्ट कहा कि विद्यालय से कचरा को हटायें। शौचालय को साफ रखें, जहां रनिंग वाटर देना सुनिश्चित करें। सभी विद्यालयों में चेतना सत्र, खेल आदि विकसित करने का निर्देश दिये। अपर मुख्य सचिव ने विद्यालयों के निरीक्षण के समय बच्चों से पठन-पाठन के संबंध में फिडबैक प्राप्त किया और शिक्षकों को बेहतर ढ़ंग से शिक्षण कार्य के लिए कई महत्वपूर्ण निर्देश दिये। 

आज जिले के 09 विद्यालयों का औचक निरीक्षण किये। लक्ष्य के अनुरूप कार्य नहीं करने के कारण जिला शिक्षा पदाधिकारी, नवादा, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी नवादा और वारिसलीगंज तथा 04 प्रधानाध्यापकों का वेतन बंद करने का निर्देश दिये। नवादा सदर प्रखंड के उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय पौरा का औचक निरीक्षण किये। उन्होंने कहा कि विद्यालय को सही ढ़ंग से साफ-सफाई कराना सुनिश्चित करें। प्रधानाध्यापक के द्वारा लक्ष्य के अनुरूप कार्य नहीं करने के कारण उनका वेतन अगले आदेश तक स्थगित करने का निर्देश दिये। उन्होंने पुराने भवनों को हटाकर विद्यालय की चहारदिवारी कराने के लिए उप विकास आयुक्त को कई आवश्यक निर्देश दिये। राजकीय मध्य विद्यालय और उच्च माध्यमिक विद्यालय हाजीपुर प्रखंड वारिसलीगंज का औचक निरीक्षण किये। उन्होंने कहा कि विद्यालय के मैदान को समतल बनायें, जिससे कि बच्चे चेतना सत्र और खेल-कूद आदि में बेहतर ढ़ंग से उपयोग कर सकें। यहां 252 बच्चों में से 164 बच्चे उपस्थित पाये गए। लापरवाही और कर्तव्यहीनता के प्रधानाध्यापक अजीत कुमार का वेतन अगले आदेश तक बंद करने का निर्देश दिये। 

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि प्राथमिक और मध्य विद्यालय में छात्रों के अनुपात में थाली उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक दिन 03ः30 बजे अप0 से   दक्षता मिशन में कमजोर बच्चों को पढ़ाना सुनिश्चित करें और शनिवार को जाॅच परीक्षा और अविभावकों का बैठक बुलाना प्रत्येक विद्यालय में सुनिश्चित करें। उच्च माध्यमिक विद्यालय हाजीपुर में अतिरिक्त कमरों का निर्माण करने का निर्देश दिये। लेकिन फिलहाल पंचायत सरकार के तीन कमरों में शिक्षण कार्य संचालित करने का निर्देश दिये। बेतरकीव ढ़ंग से बने भवनों को ठीक करने का निर्देश दिये। तत्पश्चात् नव सृजित प्राथमिक विद्यालय अवदालपुर (मुशहरी) का औचक निरीक्षण किये। इस विद्यालय में एक वर्ग कक्ष में ताला बंद था, जिसको खोला गया तो काफी संख्या में विद्यार्थियों के लिए पाठ पुस्तक पायी गयी। उन्होंने कहा कि इसमें प्रधानाध्यापक का लापरवाही है जो कि समय पर बच्चों को पाठ पुस्तक उपलब्ध नहीं कराया। उन्होंने अखिलेश कुमार सिंह प्रधानाध्यापक का वेतन अगले आदेश तक बंद करने का निर्देश दिये। इस विद्यालय में 148 बच्चे नामांकित हैं, जिसमें से 101 बच्चे आज उपस्थित थे। किताबों का वितरण और विद्यालयों का निरीक्षण नहीं करने के कारण प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी वारिसलीगंज का वेतन भी बंद करने का निर्देश दिया गया। लक्ष्य के अनुरूप शिक्षा विभाग द्वारा संचालित कार्यक्रमों को विद्यालय में समयबद्ध ढ़ंग से लागू नहीं करने के कारण जिला शिक्षा पदाधिकारी नवादा का भी वेतन बंद करने का निर्देश जिला पदाधिकारी नवादा को दिया गया। तत्पश्चात् प्राथमिक विद्यालय मल्लीचक का औचक निरीक्षण किया गया जहां 85 बच्चे नामांकित थे जिसमें से 41 बच्चे उपस्थित पाये गए। लेकिन विद्यालय में ब्लैक बोर्ड नहीं था जिसको गंभीरता से लिया गया और कहा कि दो दिनों के अंदर सभी कमरों में बोर्ड का निर्माण करायें। विद्यालय में गंदगी और शौचालय नहीं रहने के कारण प्रधानाध्यापक को हटाकर वरीय शिक्षकों को वित्तीय प्रभार देने का निर्देश दिया। पूर्व प्रधान अध्यापक का भी वेतन बंद करने का निर्देश दिए।विद्यालय में दो कमरे में ताला बंद पाया गया और बच्चे बाहर ओसारे में पढ़ रहे थे। उन्होंने प्रधानाध्यापक को निर्देश दिया कि अपना कार्यालय बाहर करें और कमरे में बच्चों का पठन पाठन कराना सुनिश्चित करें। प्राथमिक विद्यालय भलुआ प्रखंड पकरीबरावां का औचक निरीक्षण में पाया गया कि 112 बच्चे नामांकित हैं, जिसमें से 70 बच्चे उपस्थित थे। इस विद्यालय में मात्र दो कमरे हैं और शिक्षकों की संख्या 10 है। उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया कि बच्चों के अनुपात में शिक्षकों का समायोजन सभी विद्यालयों में कराना सुनिश्चित करें। शौचालय को साफ-सफाई एवं उपयोग लाईक बनाने का निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि एजेंसी से या विद्यालय के निधि से सभी कमरे और शौचालय का साफ-सफाई कराना सुनिश्चित करें। 

 नव सृजित प्राथमिक विद्यालय तरहारा (प्रखंड पकरीबरावां)  संचालित हो रहा है लेकिन अभी तक विद्यालय का भवन नहीं बना है। अपर मुख्य सचिव ने इसे गंभीरता से लिया है और कहा कि दो दिनों के अंदर फैब्रीकेटेड विद्यालय भवन बनाना सुनिश्चित करें जिससे कि बच्चे मौसम की प्रतिकूल दशाओं से बचते हुए अध्ययन कर सकें। इसके अलावे उप विकास आयुक्त को सामुदायिक भवन में दो कमरे शीघ्र बनाने का निर्देश दिये। उप विकास आयुक्त ने कहा कि गांवों तक आने वाले कच्ची सड़क को आरडब्लूडी के द्वारा बनाने के लिए टेंडर हो गया है। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि पठन-पाठन में टोला सेवक को भी लगाओ। इस विद्यालय में 106 विद्यार्थी नामांकित हैं, जिसमें 47 उपस्थित थे। तत्पश्चात उत्क्रमित मध्य विद्यालय बुधौली, प्रखंड पकरीबरावां का निरीक्षण किया गया जहां शौचालय का यूनिट मात्र दो था, लेकिन बच्चों की संख्या 544 था। उन्होंने विद्यालय के मैदान को समतल बनाने और चार यूनिट का शौचालय बनाने का निर्देश दिये। मनरेगा से चहारदिवारी का निर्माण करने का निर्देश उप विकास आयुक्त को दिया गया। उन्होंने वर्ग कक्ष में जाकर विद्यार्थियों से पठन-पाठन के संबंध में फिडबैक प्राप्त किया। आज विद्यालय निरीक्षण के समय श्री आशुतोष कुमार वर्मा जिला पदाधिकारी, श्री अम्बरीष राहुल पुलिस अधीक्षक, श्री दीपक कुमार उप विकास आयुक्त, श्री रविशंकर कुमार अपर शिक्षा परियोजना पदाधिकारी, श्री अखिलेश कुमार अनुमंडल पदाधिकारी नवादा सदर, श्री दिनेश कुमार चैधरी जिला शिक्षा पदाधिकारी, श्री सत्येन्द्र प्रसाद जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी, श्री तनवीर आलम डीपीओ स्थापना, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी आदि उपस्थित थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network