आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 24 नवंबर 2023 : शिवसागर : बिहार की शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिए शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक एक्शन में हैं. वो लगातार प्रदेश के सरकारी स्कूलों का दौरा कर रहे हैं और वहां कमियां मिलने पर अधिकारियों की क्लास लगा रहे हैं. हाल ही में केके पाठक बिना किसी अधिकारी को बताए अचानक शिवसागर प्रखंड मुख्यालय पर रुककर स्कूलों स्कूलों की जांच शुरू कर दिया.

सबसे पहले शिवसागर स्थित कन्या मध्य विद्यालय का जांच किया.जहां व्यवस्था सही होने के बावजूद भी हेडमास्टर व शिक्षकों को कई दिशा निर्देश दिया.उसके बाद उन्होंने उर्दू प्राथमिक विद्यालय का जांच कर सिधा प्रखंड मुख्यालय स्थित श्री दुर्गा हाई स्कूल पहुंचे और शिक्षकों से यह पुछ डाले कि किसने अबतक कितने घंटी क्लास लिया.जहां जवाब में शिक्षक एक से क्लास लेने की बात कह रहे थे. इसपर मुख्य सचिव शिक्षक शिक्षिकाओं पर भड़क गए और कहा कि हर दिन किसी भी शिक्षक छह क्लास लेना अनिवार्य है.अगर विद्यालय की घंटी फुल हो तो बगल के स्कूलों में जाकर जूनियर क्लास लें. ऐसा नही करने वाले शिक्षक अपने वेतन के हकदार नहीं हैं. लापरवाह हाई स्कूल के शिक्षकों को प्राथमिक विद्यालय में जाना पड़ जाएगा. इसी बीच शिक्षकों के बचाव में आयी हाई स्कूल की प्रिंसिपल की भी मुख्य सचिव ने जमकर फटकार लगाया.

हाई स्कूल के एक शिक्षिका की सचिव ने किया सराहना हाई स्कूल की शिक्षिका डा. रीभा तिवारी को मुख्य सचिव ने सराहा. इस दौरान शिक्षिका ने मुख्य सचिव को खुद से लिखी दिव्यांगता एक वरदान व दीप्तिमान बेटियां नामक पुस्तक भेंट किया. मिडिल स्कूल के हेडमास्टर की भी मुख्य सचिव ने लगाई क्लास हाई स्कूल की जांच के बाद मुख्य सचिव सीधे मिडिल स्कूल पहुंचे. जहां विद्यालय में कमरा उपलब्ध होने के बावजूद भी एक ही कमरा में दो दो कक्षाओं के बच्चों का क्लास चल रहा था.इसको देख वे हेडमास्टर सत्येन्द्र चौधरी पर आग बबुला हो गये.जांच के दौरान प्रखंड के हर विभाग में हड़कंप मचा हुआ था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network