आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 06 मई 2022 : मुजफ्फरपुर। आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने शुक्रवार की सुबह सहरसा जेल सुपरिटेंडेंट सुरेश चौधरी के सहरसा सहित मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र के कृष्णटोली मोहल्ला स्थित दो ठिकानों पर छापेमारी की। मुजफ्फरपुर और सहरसा दोनों जगह एक साथ शुरू हुई कार्रवाई दोपहर तक जारी था। मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुरा, गली नम्बर 5, कृष्ना टोली, वार्ड 2 में सहरसा जेल सुपरिटेंडेंट सुरेश चौधरी का आवास है। जहां स्पेशल विजिलेंस यूनिट की टीम सुबह 7 बजे ही पहुंची। जेल सुपरिटेंडेंट के घर को सुरक्षा घेरा में लेकर टीम के सदस्य कार्रवाई करने में जुटे हैं। जेल सुपरिटेंडेंट के घर से मिले एक-एक कागजात को खंगाला जा रहा है। दी गई जानकारी के अनुसार स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने सहरसा के वर्तमान जेल सुपरिटेंडेंट सुरेश चौधरी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में केस दर्ज किया था। जिसमे उक्त अधिकारी के पास करीब 1करोड़ 59 लाख 07,928 रुपए होने की बात कही गयी है। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद टीम की अलग-अलग टीम ने शुक्रवार की सुबह एक साथ उनके आवास और सरकारी दफ्तर में छापेमारी की। हालांकि छापेमारी के दौरान सुरेश चौधरी के ब्रह्मपुरा कृष्णटोली मोहल्ला स्थित आवास से क्या कुछ बरामद हुआ, इस मामले में एसवीयू की टीम ने स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बताया है। अपुष्ट खबर के अनुसार सुरेश चौधरी के आवास से नगद मोटी रकम बरामद की गई है, विभागीय अधिकारी मशीन से बरामद नोटों की गिनती करने में जुटे हैं।बताया गया है कि सहरसा जेल अधीक्षक ने अपने कार्यकाल में पद का दुरुपयोग करते हुए अवैध तरीके से करोड़ो रूपये की काली कमाई की है। उनके पास कैश के अलावा, जेवरात, जमीन और उनके पास कैश के अलावा, जेवरात, जमीन और कई जगहों पर मकान होने का भी पता चला है। एसयूवी की टीम सुरेश चौधरी की पूरी चल अचल संपत्ति का डिटेल्स खंगालने में जुट गई है। टीम में शामिल अधिकारियों ने बताया कि कारवाई पूरी होने के पश्चात विस्तृत जानकारी दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network