आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 08 मई 2022 : मदर्स डे को लेकर लोगों को उत्साह है। हर साल मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाया जाता है। इस साल मदर्स डे 8 मई को है। मदर्स डे मां और बच्चों के प्रेम और स्नेह का दिन है। वैसे तो हर दिन मां और बच्चों का होता है लेकिन बच्चे जीवन की भागदौड़ में मां को यह बता नहीं पाते कि उनके जीवन में मां कितनी अहम हैं। ऐसे में मदर्स डे मां के मातृत्व, उनकी देखभाल, निस्वार्थ प्यार को समर्पित दिन होता है। लेकिन मदर्स डे के बारे में आप कितना जानते हैं? आज भले ही लोग अपनी अपनी तरह से मदर्स डे का पर्व मनाते हैं लेकिन मदर्स डे से जुड़ी कई ऐसी बाते हैं जिनसे आप अनजान होंगे।

पहला मदर्स डे कहां मनाया गया

मौजूदा समय में दुनिया के तमाम देश मदर्स डे मनाते हैं। अमेरिका से लेकर भारत और यूरोपीय देशों में मदर्स डे अलग अलग तरीकों से मनाया जाता है लेकिन शायद आप इस बात से अनजान हो कि सबसे पहला मदर्स डे अमेरिका के वेस्ट वर्जीनिया और फिलाडेल्फिया में मनाया गया था। साल 1908 में पहली बार मदर्स डे मनाया गया।


किसने मनाया सबसे पहले मदर्स डे

एना जार्विस नाम की अमेरिकी महिला ने अपनी मां की निधन के बाद कभी शादी न करने का फैसला लिया और अपना पूरा जीवन मां के नाम समर्पित कर दिया।एना जार्विस ने ही सबसे पहले मदर्स डे मनाने की शुरुआत की। उन दिनों यूरोप में इस दिन को मदरिंग संडे कहा जाता था।

मदर्स डे मनाने की आधिकारिक घोषणा

भले ही साल 1908 में मदर्स डे मनाने की शुरुआत हो गई हो लेकिन आधिकारिक तौर पर मदर्स डे मनाने के लिए कानून पास हुआ। अमेरिके के राष्ट्रपति वुड्रो विल्सन ने 9 मई 1914 को कानून पास किया, जिसमें लिखा था कि मई महीने के हर दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाया जाएगा।


6 मार्च को भी मदर्स डे

उसके बाद से कई सारे देशों में मदर्स डे मनाने का एक तय दिन हो गया। जिसे भारत, अमेरिका समेत अन्य देशों ने अपना लिया लेकिन बहुत कम लोगों को पता होगा कि यूके में मदर्स डे 6 मार्च को मनाया जाता है।


वर्जिन मैरी का दिन

ईसाई समुदाय के लोग मदर्स डे को वर्जिन मेरी का दिन मनाते हैं। इस दिन लोग फूल और उपहार देकर प्रार्थना करते हैं। वहीं चीन के लोग मदर्स डे पर अपनी मां को उपहार में गुलनार का फूल देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network