आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 29 जून 2022 : सासाराम : जिलाधिकारी रोहतास श्री धर्मेन्द्र कुमार के निर्देश पर ज़िला मुख्यालय सासाराम स्थित सासाराम प्रखंड के नौ पंचायतों तथा क्षेत्र-विस्तारित नगर निगम सासाराम अंतर्गत विलयित दस पंचायतों अर्थात कुल उन्नीस पंचायतों में सरकार द्वारा चलाई जा रही विकास योजनाओं, विद्यालयों, आंगनवाड़ी केंद्रों, स्वास्थ्य उप केंद्रों, पीडीएस डीलरों, सात निश्चय अंतर्गत नल-जल योजनाओं की विस्तृत जांच जिलास्तरीय पदाधिकारियों तथा तकनीकी पदाधिकारियों के उन्नीस संयुक्त टीमों द्वारा आज दिनांक 29 जून, 2022 को प्रातः 9 बजे से अपराह्न 1.30 बजे तक सम्पन्न की गई।

सर्वप्रथम, प्रातः 8.30 बजे, सासाराम प्रखंड के सभागार में जिलाधिकारी, रोहतास श्री धर्मेन्द्र कुमार द्वारा सभी जांच दलों की संयुक्त ब्रीफिंग की गई। उक्त ब्रीफिंग में जिलाधिकारी महोदय ने सभी जांच अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि सरकार द्वारा समाज के सर्वोन्मुखी विकास हेतु चलाई जा रही सभी योजनाओं के धरातलीय गुणात्मक क्रियान्वयन की स्थिति की भौतिक जांच कर उनके फलाफल और सुप्रभावों से प्रतिवेदन के माध्यम से उन्हें अवगत कराना है। तदालोक में, सभी 19 जांच दलों द्वारा सासाराम प्रखंड के पूर्ववर्ती तथा वर्तमान 19 पंचायतों की विस्तृत जांच सम्पन्न की गई। जांच के फलाफल का अध्ययन एवं समीक्षा स्वयं जिलाधिकारी महोदय द्वारा अपराह्न 1.30 बजे, सासाराम प्रखंड सभागार में किया गया।

ज्ञातव्य है कि जिलाधिकारी महोदय ने स्वयं भी सिकरिया पंचायत के वार्ड नंबर 12 में चल रही योजनाओं की मॉनिटरिंग की।निरीक्षण के क्रम में, उक्त वार्ड नंबर 12 में नल-जल संबंधी केवल स्ट्रक्चर पाया गया जबकि bpro द्वारा जानकारी दी गई कि उक्त योजना मद में 15 लाख रुपये की राशि की निकासी कर ली गई है।तत्क्षण, जिलाधिकारी महोदय ने bpro सासाराम, संबंधित तकनीकी सहायक, अकाउंटेंट का वेतन अवरुद्ध करते हुए संबंधित वार्ड सदस्य को 14 दिनों में कार्य पूरा कराने का निर्देश bdo सासाराम को दिया और साथ ही, यह भी स्पष्ट किया कि आगामी 14 दिनों में कार्यपूर्ण नही होने की दिशा में संबंधित वार्ड सदस्य पर सर्टिफिकेट केस करते हुए सरकारी राशि की वसूली की जाए।

जिलाधिकारी महोदय ने स्वास्थ्य उप केंद्र का भी निरीक्षण किया।उन्होंने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि सभी ANM अचूक रूप से सोम, मंगल, वृहस्पतिवार और शनिवार को स्वास्थ्य उप केंद्र पर पूरे ड्यूटी hours में उपस्थित रहेंगी।उनके द्वारा मंगलवार की मीटिंग 1.30 के बाद की जाएगी।आईसीडीएस के साथ समन्वय स्थापित कर vaccination और इम्यूनाइजेशन का कार्य किया जाएगा।

जिलाधिकारी महोदय द्वारा करसेरुआ स्थित CHC निर्माण की धीमी प्रगति पर ब्लॉक समन्वयक का वेतन स्थगित करते हुए कार्यों में अपेक्षित तेज़ी लाने का निर्देश दिया।

जांच दलों द्वारा लगभग 6 पीडीएस दूकानों में पाई गई अनियमितता के आलोक में अनुमण्डल पदाधिकारी सासाराम को उन सभी से कारण पृच्छा करते हुए , असंतोषजनक उत्तर प्रसप्त होने पर,उनकी अनुज्ञप्ति रद्द करने का निर्देश दिया।

कतिपय आंगनवाड़ी केंद्रों में पर्याप्त रोशनी का अभाव तथा छोटे कमरे में संचालन के दृष्टिगत , dpo/icds को विभाग से मार्गदर्शन प्राप्त कर अपेक्षाकृत बड़े कमरे(600 स्क्वायर फ़ीट या अधिक) की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।
पंजी संधारण में कमी,अव्यवस्थित संचालन आदि के दृष्टिगत, लगभग आधा दर्जन आंगनबाड़ी केंद्रों की सेविका/सहायिका पर कार्रवाई करने तथा समुचित पर्यवेक्षण नही करने के कारण सीडीपीओ सासाराम का वेतन स्थगित करने का निर्देश दिया गया।
कतिपय विद्यालयों में , शिक्षकों की पाई गई अनाधिकृत अनुपस्थिति के आलोक में जिलाधिकारी महोदय द्वारा ज़िला शिक्षा पदाधिकारी को उनपर अनुशासनात्मक कार्यवाही का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी महोदय द्वारा सासाराम प्रखंड कार्यालय तथा अंचल कार्यालय का भी निरीक्षण किया गया।प्रदत्त कार्यों की असंतोषजनक प्रगति के दृष्टिगत अंचल के चारों राजस्व कर्मियों के वेतन पर रोक लगाई गई है तथा डेटा एंट्री ऑपरेटर के भी स्थानांतरण का निर्देश जारी किया गया।

जिलाधिकारी महोदय ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को छात्रों के लिए साप्ताहिक रूप से शंका-समाधान सत्र आयोजित करने, मासिक रूप से 7 से 9 कक्षा की छात्राओं को स्वास्थ्य विभाग द्वारा हेल्थ एवं हाइजीन का प्रशिक्षण देने आदि का भी निर्देश दिया।

उन्होंने कहा कि सभी जांच प्रतिवेदन के आलोक में, अग्रेतर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी और इस प्रकार की स्थलीय मेगा जांच अभियान भविष्य में भी लगातार चलाये जाते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network