आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 05 जुलाई 2022 : पटना । बिहार में कई जिलों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। इधर, बाढ़ को लेकर प्रशासन भी सतर्क हो गया है। इस बीच, 9 वीं बटालियन एनडीआरएफ बिहटा, पटना की 7 टीमों को संभावित बाढ़ के मद्देनजर विभिन्न संवेदनशील जिलों में बाढ़ बचाव उपकरणों के साथ तैनात किया गया है। एनडीआरएफ 9 वीं बटालियन के कमांडेंट सुनील कुमार सिंह ने बताया कि सभी टीमों को बाढ़ बचाव व आधुनिक संचार उपकरणों के साथ गुजफ्फरपुर, दरभंगा, किशनगंज, गोपालगंज, भागलपुर तथा सुपौल जिलों में तैनात किया गया है जबकि एक टीम दीदारगंज (पटना) में तैनात है।

उन्होंने बताया कि इस वर्ष संभावित बाढ़ से पहले तैनात की गई सभी 7 टीमें इन्फलैटेबल मोटर बोट, डीप डाइविंग सेट, लाइफ जैकेट, लाइफब्वॉय, कुशल गोताखोर तथा आधुनिक खोज एवं बचाव उपकरणों से लैस है तथा बाढ़ के दौरान राहत व बचाव कार्य में सक्षम व दक्ष है। उन्होंने बताया कि सभी टीमों की तैनाती बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के मांग पर की गई है।

उत्तरी बिहार के कुछ जिलों में बाढ़ का असर दिखने भी लगा है। किशनगंज की टीमें राहत और बचाव कार्य में जुट भी गई हैं। अब तक एनडीआरएफ की टीम ने 19 नागरीकों व 18 पशुधन को सुरक्षित स्थानों पर पहुचाया गया। साथ ही बाढ़ से पूर्व एनडीआरएफ की टीमें जिला प्रशासन के समन्वय से आपदा जोखिम न्यूनिकरण संबंधित तैनाती जिलों में जन जागरूकता अभियान तथा आपदा विषय पर स्कूलों में प्रशिक्षण व मॉक ड्रिल कर रही है।

उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों तथा स्कूल के बच्चों को बाढ़ से पहले की तैयारी, नौका सुरक्षा, बाढ़ बचाव तकनीक की जानकारी, सर्पदंश प्रबंधन, अस्पताल पूर्व चिकित्सा तकनीक तथा भूकंप के दौरान की जाने वाली सुरक्षात्मक पहलू के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दी जा रही हैं। इन जिलों में जहां अभी बाढ़ की स्थिति नहीं बनी है वहाँ टीमें अपने-अपने इलाको मे गहन भ्रमण कर उन स्थानों को भी चिन्हित कर रही कि जो बाढ़ की चपेट में आ सकती हैं, जिन्हें बाढ़ से ज्यादा खतरा हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network