आईजी अमित लोढ़ा और वरीय पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार को भी पुलिस मुख्यालय में पदस्थापन की प्रतीक्षा में रखा गया है।

आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 03 फरवरी 2022 : गया :

बिहार में इन दिनों राजधानी पटना से लेकर एक छोटे से गांव तक शराब और जमीन पर अवैध कब्जे को लेकर बड़ा सिडिकेंट काम कर रहा है और इस सिडिकेंट में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ साथ उस इलाके के अपराधी भी शामिल है। गया के डीएम ,एसएसपी और आईजी पर कार्रवाई उसी की एक कड़ी है जहां इन अधिकारियों ने गया में जंगल राज कायम कर रखा था। सरकार शराबबंदी को लेकर बैचेन है वही गया में पुलिस के संरक्षण में शराब का कारोबार बड़े पैमाने पर चल रहा था ,पहाड़ का अवैध खनन दिन में चलता था, भूमाफिया का मनोबल इतना बढ़ गया था कि जमीन आपकी कब्जा किसी ओर को करवा कर पुलिस की मौजदूगी में घर बनवा देता था जिसे कहते हैं प्रशासन का नंगा नाच वह नाच गया में चल रहा था

राज्य सरकार ने गया के एसएसपी आदित्य कुमार और मगध रेंज के आइजी अमित लोढ़ा पर कड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें तत्काल मौजूदा पद से हटा दिया है. दोनों अधिकारियों को पुलिस मुख्यालय में योगदान देने को कहा गया है. इसके साथ ही गया में नये आइजी और एसएसपी की तैनाती की गयी है. पटना में आइजी मुख्यालय विनय कुमार को मगध रेंज का नया आइजी बनाया गया है. बुडको के एमडी अभिषेक सिंह का किया गया तबादला। बिहार राज्य योजना पर्षद में परामर्शी बनाए गएविनय कुमार को गया का डीआईजी बनाया गया , हरप्रीत कौर को गया का एसएसपी बनाया गयागया के डीआईजी अमित लोढ़ा और गया एसएसपी आदित्य कुमार को वेटिंग फॉर पोस्टिंग में मुख्यालय भेजा गया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network