आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 14 फरवरी 2022 : कैमूर : कैमूर जिले के 40 पंचायत ओडीएफ प्लस किए जाएंगे। चिन्हित किए गए सभी पंचायतों में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन बनाया जाएगा।इन सभी ग्राम पंचायतों में सामुदायिक स्वच्छता को बढ़ावा दिया जाएगा।सोमवार को उप विकास आयुक्त से उपाध्यक्ष जिला जल एवं स्वच्छता समिति की अध्यक्षता में बैठक आयोजित हुई। जिसमें डीआरडीए डायरेक्टर अजय तिवारी जिला पंचायती राज पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मनरेगा जिला जल एवं स्वच्छता समिति के जिला सलाहकार यशवंत कुमार जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी सत्येंद्र त्रिपाठी जिला समन्वयक स्वच्छता एवं डीडब्ल्यूएसी के सदस्य उपस्थित रहे।

जिसमें बताया गया कि सभी प्रखंडों में चयनित 40 ग्राम पंचायतों में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन का कार्य हेतु एक्शन प्लान की स्वीकृति दी गई है।उप विकास आयुक्त ने निर्देश दिया कि चयनित 40 ग्राम पंचायतों में अग्रिम राशि ग्राम पंचायतों को मिलने पर नियमानुसार हो। सात निश्चय टू के तहत लक्षित स्वच्छ गांव समृद्ध गांव के उद्देश्य की प्राप्ति के लिए स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण द्वितीय चरण अंतर्गत स्वच्छता योजना का प्रमुख उद्देश्य खुले में शौच मुक्त के अस्तित्व को बनाए रखना और ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई के स्तर में सुधार लाकर उन्हें ओडीएफ प्लस गांव बनाना है।

चरणबद्ध तरीके से ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के द्वारा सभी ग्राम पंचायतों को वर्ष 2024 -25 तक प्रत्यक्ष स्वच्छ बनाया जाना है। ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन को पंचायती राज संस्थानों के नेतृत्व में समुदाय आधारित विकेंद्रीकृत मॉडल के रूप में विकसित किया जाएगा।संपूर्ण स्वच्छता व्यक्तिगत साफ-सफाई की आदतों एवं संस्थागत परिसरों में स्वच्छता से संबंधित व्यवहार परिवर्तन के प्रति समुदाय को जागरूक किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network