आर० डी० न्यूज़ नेटवर्क : 27 मई 2022 : दिल्ली : जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के राष्ट्रीय अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने समन जारी करके 31 मई को दिल्ली में मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए तलब किया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह मामला भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) द्वारा जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ (JKCA) को दिए जाने वाले अनुदान में कथित अनियमितता से जुड़ा है। ED के अधिकारी ने बताया कि फारूक अब्दुल्ला को इससे पहले पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन वो नहीं आए थे इसलिए उन्हें दोबारा समन जारी किया गया है।

वहीं नेशनल कांफ्रेंस ने समन जारी होने के बाद ट्वीट करके केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। नेशनल कांफ्रेंस ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि JKNC के अध्यक्ष डॉ फारूक अब्दुल्ला को ED का समन कोई नई बात नहीं है। यह भारत में सभी विपक्षी दलों के लिए आम है। उन्होंने मामले में अपनी बेगुनाही बरकरार रखी है और जांच एजेंसियों का सहयोग किया है। इस मामले में भी सहयोग करेंगे।

जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ को दिए जाने वाले अनुदान में अनियमितता का मामला

नेशनल कांफ्रेंस के राष्ट्रीय अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला को JKCA के अनियमितता के मामले में समन जारी किया गया है। इस मामले में यह आरोप लगाया गया था कि 2002 और 2011 के बीच 43 करोड़ रुपए से अधिक की धनराशि को जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ के खजाने से निकाल लिया गया। वहीं ED के अनुसार यह राशि 50 करोड़ रुपए से अधिक है। बताया जाता है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने 112 करोड़ रुपए अनुदान के रूप में जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ (JKCA) को दिया था, जिसमें से यह निकाशी की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !! Copyright Reserved © RD News Network